Thursday, 2 December 2021

Surya grahan सूर्यग्रहण के बुरे प्रभाव से से बचाएंगे ये उपाय जानिए क्या होता है सूर्यग्रहण इस समय क्या करे क्या ना करें

नमस्कार दोस्तों आज हम बात कर रहे हैं सूर्य ग्रहण के प्रभाव के बारे में क्योंकि यह बुरे साये का प्रतीक माना जाता है और इसका कुप्रभाव हमारी कुण्डली में सूर्य ग्रह की स्थिति दर्शाती है।ज्योतिष द्वारा माना गया है कि ब्रम्हांड में होने वाली हर घटना का हमारे ऊपर असर जरूर देखने को मिलता है।हमारे साथ शुभ अशुभ हमारे ग्रह चाल से ही घटित होते है।सूर्य ग्रहण के दुष्प्रभाव से कैसे बचा जाए। इसके क्या उपाय है। सूर्य ग्रहण के समय क्या करना चाहिए क्या नहीं करना चाहिए। किन बातों का विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

Surya grahan सूर्यग्रहण के बुरे प्रभाव से से बचाएंगे ये उपाय जानिए क्या होता है सूर्यग्रहण इस समय क्या करे क्या ना करें

दोस्तों हमारी कुण्डली में भी सूर्यग्रहण का दुष्प्रभाव पढता है। क्योंकि लाल किताब के अनुसार सूर्य का राहू के साथ किसी भी प्रकार का सम्बन्ध हो तो यह भी सूर्यग्रहण के योग दर्शाता है। पितृदोष भी सूर्यग्रहण को दर्शाता है। अगर आपकी कुण्डली में शुक्र, बुद्ध, राहू एक साथ 2,5,9 या 12 वें भाव में हो तो यह भी सूर्यग्रहण काल माना जाता है। और राहू केतु किसी भी भाव में बैठा हो तो सूर्यग्रहण काल माना जाता है। 

शास्त्रों में सूर्यग्रहण के बुरे प्रभाव से भचने के कयी सारे नियम बता गये है जो इस प्रकार से है ---

● सूर्यग्रहण के समय क्या न करें 

> ग्रहण काल के समय घर के मन्दिर के कपाट बन्द रखें। 

> ग्रहण काल के समय कभी सोना नहीं चाहिए। 

> ग्रहण काल के समय पानी के बर्तन ढककर रखना चाहिए। 

> ग्रहण काल के समय भोजन नहीं करना चाहिए,तथा जो भोजन बचा हो उसे फेंक देना चाहिए। 

> ग्रहण काल के समय किसी भी हथियार का प्रयोग नहीं करना चाहिए। 

> ग्रहण काल के समय छोटे बच्चों को बाहर नहीँ रखना चाहिए।

> ग्रहण काल के समय किसी भी प्रकार का शुभ कार्य नहीं करना चाहिए। 

> ग्रहण काल के समय बाल,नाखून या कंघी नहीं करनी चाहिए।

● सूर्यग्रहण के समय क्या करना चाहिए 

> ग्रहण काल के समय दान करना बहुत शुभ माना जाता है। 

> ग्रहण काल के समय जप या मंत्र सिद्धी की प्राप्ति होती है।

> ग्रहण काल के समय अपने ईष्ट देव का स्मरण करे?जप करें? अनुष्ठान करें। 

> ग्रहण काल के समय शंखनाद करें? घण्टी बजाएं। 

> ग्रहण काल के बाद स्नान करे?घर की सफाई करें? मंदिर की सफाई करे?

> ग्रहण काल के बाद घर में गंगाजल का छिड़काव करें? अशुद्ध पानी फेंक दें? 

अन्य सम्बन्धित बेबदुनियां

👉जानिए किस दिशा में कौन से सामान रखने से होगी तरक्की 
👉 सफलता पाने का मूल मंत्र 
👉 खूब सार पैंसे कमाने की ट्रिक व मंत्र 
👉 वास्तुशास्त्र के अनुसार करे घर में मंदिर स्थापना बरसेगी खुशियाँ 
👉 सर्वार्थ सिद्धी के लिए धारण करें हनुमान चालीसा यंत्र लाॅकेट 
👉 जानिए राशी के भवन निर्माण का सहि मुहूर्त कब है
👉 मंगल ग्रह का मूंगा रत्न लाभ हानि और विधि से प्राप्त करें सुख समृद्धि 
👉 घर के मुख्य द्वार पर जरूर करें ये काम खुशियाँ दस्तख देगी खुद घर 

0 comments: