Monday 27 November 2023

Love Shayari Gajal in hindi: जीवन साथी पर गजल शायरी

Love Shayari Gajal in hindi: जीवन साथी पर  गजल शायरी 

सात जन्मों के सफर कब चौदह बरस यूँ ढल गये ।
बात कल की ही हो जैसी लाल छोडे में सज रही ।

तुम हो तो मुझमें होने का एहसास जगाती रही ।
सपनों में अप्सरा बन तुम आहिस्ता यूं आती रही ।

कभी जो बदले नही वो जज्बात तुमने मुझको दिए ।
सफर लम्बा बहुत था हर ख्वाब तुमने हमको दिए ।

ख्वाब पाले थे तुमसे इश्क बेइन्तहा करने लगे ।
हो चला मन बावरा हर मीत तुमसे छूने लगे । 

चार दिन की जिंदगी में सात जन्मों की रीत है ।
मेरा ये दिल जानता है कि मुझे तुमसे ही प्रीत है ।

कोई हमसे, कोई तुमसे, हर कोई दूसरे से है खफा ।
कोई भी लब्ज शिकवा गिला करता कहाँ वफा ।

यादें दिल में है बसीं गर यकीं रख तो पाओगे ।
झूठ लोगों ने फैलाया गर मिलता कहाँ है खुदा ।

फूल लगते बाग में और बाग सजते धरा पर है ।
तुम साथ हो या ना रहो हर इबादत मेरी तुमसे है ।

थिरके कदमों को तुमने वैसाखी बन खडे किए ।
भटकी नैया को तुमने विपरीत धारा में तार दिए ।

0 comments: